बिहार आने वाले प्रवासी पक्षियों को लग गई है किसी की नजर, हो रहा शिकार

0

पटना। पक्षियों का चहचहाना किसे नहीं भाता। रंग-बिरंगे पक्षियों की चुन-चुन से आपकी नींद खुले तो दिन बन जाता है। यह माह विदेशी पक्षियों की खूबसूरती निहारने का है। नवंबर से लेकर मार्च तक का महीना इन्हीं पक्षियों की वजह से खास होता है। इसमें साइबेरिया, चीन, मंगोलिया, तिब्बत लद्दाख जैसे ठंडे प्रदेशों से हजारों की संख्या में पक्षी पटना सहित बिहार के कई इलाकों में प्रवास करने आते हैं।

इन पक्षियों को देखने के लिए तो भीड़ कम लेकिन इन्हें मारने की जुगत आजकल अधिक हो रही है जिसके कारण इनकी संख्या में कमी दिख रही है। हर साल आने वाले प्रवासी पक्षियों का बड़ा प्रतिशत यहां से लौटकर नहीं जा पाता। इसका सबसे बड़ा कारण है इन्हें जाल में फंसाकर या फिर इन्हें मार देना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here