बिहार के मोबाइल बाजार में एक तिहाई से ज्यादा हिस्सा चीन का, गांव-गांव तक पहुंच

0

पटना। मोबाइल तक आम आदमी की पहुंच होने के बाद से चीन में बने मोबाइल ने बिहार के बाजार पर जो कब्जा किया वह अब भी बरकरार है। बिहार चाइनीज उत्पादों के लिए बड़ा बाजार बन चुका है। करीब तीन हजार करोड़ रुपये के चाइनिज उत्पाद यहां हर साल बिक जाते हैं। बिहार के बाजार में अभी चीन निर्मित एलईडी टीवी की धूम है।

जानकारों का अनुमान है कि बिहार के कुल कारोबार में एलईडी टीवी की हिस्सेदारी लगभग 1500 करोड़, मोबाइल हैंडसेट की 850 करोड़, सजावटी रोशनी वाले आइटम और एलईडी बल्बों की 200 करोड़, ऑडियो सिस्टम की 180 से 200 करोड़ और खिलौनों की 80 से 100 करोड़ रुपये है।

चिंताजनक यह कि इसमें कितने के कारोबार पर असंगठित बाजार का कब्जा है और वह किस तरह से फलफूल रहा है, इसका अंदाजा तक नहीं।बिहार के मोबाइल हैंडसेट बाजार में चाइनीज सेटों की दमदार उपस्थिति है। अनुमान है कि कुल कारोबार में करीब 30 से 35 फीसद हिस्सेदारी चाइनीज सेटों की है, हालांकि कभी यह हिस्सेदारी 50 फीसद तक थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here