जेल में पत्नी नहीं हनीप्रीत से मिलना चाहता है राम रहीम

0
142

बलात्कार मामले में गुरमीत राम रहीम की सजा शुरू हो गई है. अब राम रहीम के आने वाले 20 साल रोहतक जेल में कटेंगे. सजा शुरू होने से पहले कैदी को जेल प्रशासन को ऐसे लोगों के नामों की सूची देनी होती है जिनसे वह सजा के दौरान मिलना चाहता है. राम रहीम ने भी मुलाकात के लिए 10 लोगों के नाम की लिस्ट दी है.

ADVT

गौर करने वाली बात यह है कि इस लिस्ट में राम रहीम ने अपनी पत्नी हरजीत कौर का नाम नहीं लिखा है जबकि हनीप्रीत का नाम इस लिस्ट में मौजूद है. इस लिस्ट में राम रहीम ने अपनी मां, दोनों बेटी- दामाद, बेटे, बहु और दो और लोगों के नाम दिए हैं. परिवार के सदस्यों में राम रहीम ने मुलाकात करने वालों की सूची में केवल अपनी पत्नी का नाम नहीं दिया है. ऐसे में सवाल उठ रहा है कि क्या राम रहीम अपनी पत्नी को परिवार का सदस्य नहीं मानता है?

दूसरी तरफ राम रहीम ने अपनी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत का नाम इस सूची में दिया है. बता दें कि राम रहीम हनीप्रीत को अपने साथ जेल में भी रखना चाहता था, उसने जेल प्रशासन को अर्जी दी थी कि हनीप्रीत उसकी फिजियोथैरेपिस्ट है और वह उसे अपने साथ रखना चाहता है. बता दें कि हनीप्रीत के पूर्व पति ने राम रहीम और हनीप्रीत के बीच अवैध संबंध होने के दावे भी किए थे.

राम रहीम ने जेल के मैमो नंबर 8550 के तहत 30 अगस्त को जेल सुप्रीटेंडेंट को 10 लोगों की लिस्ट सौंपी है. सजा के दौरान ये दस लोग ही राम रहीम से मुलाकात कर सकेंगे. लिस्ट में राम रहीम की मां नसीब कौर, बेटा जसमीत, बहु हुसनप्रीत, बेटियां चरण प्रीत और अमन प्रीत, दामाद शानेमीत और रूहेमीत, हनीप्रीत के नाम हैं. इसके अलावा डेरा के चेयर पर्सन वीपीसाना और दान सिंह के नाम इस लिस्ट में शामिल हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here